February 28, 2024

भारत का बड़ा दुश्मन Dawood Ibrahim गिन रहा हस्पताल में आखरी सासे

dawood ibrahim
हमारे व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े Join Now

Dawood Ibrahim News : भारत के दुश्मनों की लिस्ट तो काफी लम्बी है लेकिन पिछले कुछ दिनों से भारत के दुश्मनों का चुन चुन के सफाया हो रहा है . पहले कनाडा में भारत के दुश्मनों का सफाया हुआ फिर पाकिस्तान में ये काम हुआ पर अब खबर आ रही है की भारत का बड़ा दुश्मन दावूद इब्राहीम (Dawood Ibrahim) भी अपनी अंतिम सासे गिन रहा है . ये अपवाह आ रही है की दावूद इब्राहीम को जहर दे दिया गया है और वो पाकिस्तान के एक बड़े हॉस्पिटल में अंतिम सासे गिन रहा है . लेकिन इस खबर की अभी पुष्टि नहीं हुई की ये काम किसने किया है . ना ही पाकिस्तान की तरफ से किसी भी प्रकार की खबर की पुष्टि की गयी है .

 

भारत का वांटेड क्रिमिनल है दावूद इब्राहीम

सूत्रों के हवाले से ये खबर आ रही है की दावूद जिस कराची के हॉस्पिटल में भर्ती है वहा सिर्फ हॉस्पिटल के डॉक्टर जा सकते है या फिर दावूद के परिवार के सदस्य . उनको कड़ी निगरानी के बीच उस हॉस्पिटल में रखा गया है , साथ ही साथ भारत की पुलिस भी इस मामले में और जानकारी लेने की कोशिश कर रही है . पिछले दिनों उनके परिवार के सदस्य ने ही बताया था की दावूद पाकिस्तान के कराची में रह रहा है .

आपको बता दे की दावूद को भारत में हुए कई अपराधो के दोषी करार दिया गया है , आज से कई साल पहले मुंबई में जो हमले हुए थे उसमे भी दावूद का हाथ था . उस हमले में तक़रीबन 200 से ऊपर आदमी दुनिया छोड़ गए थे उसके बाद से उसको पकड़ने की कोशिश तेज हो गयी थी .

भारत ने किया था पाकिस्तान में होने का सबूत पेश

दावूद इब्राहीम (Dawood Ibrahim) जब से भारत में अपने काले कारनामो को अंजाम देना शुरू कर दिया था तब से भारतीय पुलिस ने उनको पकड़ने की कोशिश तेज कर दी थी . भारत ने पाकिस्तान को कई बार सबूत पेश किये थे की वो कराची में रह रहा है लेकिन पाकिस्तान की सरकार ने उसको मानने से साफ़ इंकार कर दिया था . लेकिन पिछले कुछ दिनों से भारत के दुश्मनों का धीरे धीरे करके विदेशो में सफाया हो रहा है .

Deepak Chauhan

दीपक चौहान को आर्टिकल लिखने में कई साल का तजुर्बा है , उन्होंने कई वेबसाइट पर आर्टिकल लिखे है .उनके आर्टिकल हमेशा सच पर आधारित होते है और हमेशा ऐसे आर्टिकल लिखते है जिससे लोगो की जानकारी ही बढती है .

View all posts by Deepak Chauhan →