Gk Quiz : अन्तरिक्ष में जाने वाले सभी राकेट सफ़ेद क्यों होते है , जानिये इसके पीछे का विज्ञानं

सरकारी नौकरी पाने के लिए हमारे व्हाट्स एप्प ग्रुप से जुड़े े Join Now

दोस्तों आज से 60 साल पहले मानव ने अपना अन्तरिक्ष मिशन शुरू किया था , तब से लगातार एक के बाद एक मिशन लांच हो रहा है . मानव ने तब से लेकर आज तक ब्रम्हांड के बहुत से रहस्यों से पर्दा उठाया है , इन सब चीजो में अगर किसी चीज़ ने हमारी मदद की है तो वो है राकेट . अगर राकेट ना होता तो शायद ही हम कभी अन्तरिक्ष में जाने की सोच पाते , लेकिन एक प्रशन सबके मन में आता है की आखिर सब राकेट का रंग सफ़ेद क्यों होता है .

 

राकेट सफ़ेद होने के पीछे है विज्ञानं

 

अन्तरिक्ष में जाने में किसी ने हमारी मदद की है वो है राकेट इसकी मदद से ही हमने इतने मिशन सफल किये है , राकेट सफ़ेद होने के पीछे विज्ञानं है . राकेट में जो इधन होता है वो बहुत ज्यादा गर्म होता है लेकिन सफ़ेद रंग के कारण राकेट को ठंडा होने में मदद मिलती है . दूसरा जब राकेट आसमान में जाता है तो सूरज की रेडिएशन से इसको नुकसान होने का खतरा होता है तो ये सफ़ेद रंग सूरज की रेडिएशन से बचाने में मदद करता है .

 

करता है राकेट को ठंडा करने में मदद

 

आप इस चीज़ को एक तरीके से समझ सकते है जैसे की कोई आदमी काली रंग की टी शर्ट डालता है तो उसको सूरज की गर्मी ज्यादा लगती है . अगर कोई  आदमी काले रंग की टी शर्ट डालता है तो उसको काले रंग की तुलना में कम गर्मी लगती है , राकेट में जो इधन होता है वो 400 डिग्री तक गर्म होता है . तो सफ़ेद रंग के कारण वो इतना ज्यादा गर्म नहीं हो पाता जितना की कोई दूसरा रंग उसको गर्म कर देता .

Leave a Comment