दिल्ली वालो पर टुटा दुखो का पहाड़ , इन कालोनियों के 5 हजार मकान तोड़े जायेंगे

सरकारी नौकरी पाने के लिए हमारे व्हाट्स एप्प ग्रुप से जुड़े े Join Now

वर्तमान समय में दिल्ली-एनसीआर में अवैध घरो – मकानों को लेकर प्रशासन बेहद कड़े मिज़ाज़ में है। अब इस बीच दिल्ली-फरीदाबाद बॉर्डर के पास यमुना से सटे बसंतपुर, अटल चौक, नूर चौक, शिव एंक्लेव पार्ट-दो, तीन, अजय नगर आदि कॉलोनियों में बने अवैध मकानों पर बुलडोजर चलेंगे। फरीदाबाद नगर निगम ने लगभग यहाँ पर पांच हजार घरो को नोटिस देकर उन पर बुलडोजर चलाने की नोटिस दी है। वही वहा के लोगो को पांच दिनों में घरो को खाली करने का नोटिस भेजा है।

इतने किलोमीटर में बसी ये पांच कालोनिया

मिली जानकारी के अनुसार, 27 सितम्बर से यह कार्य शुरू की जाएगी। वही बृहस्पतिवार से इसके लिए क्षेत्रो में कार्यवाही की जा रही है। इन कॉलोनियों में सार्वजनिक स्थानों में नोटिस भी लगा दिए गए हैं। जहाँ 5 किलोमीटर के दायरे में बसा ये 5 कॉलोनी, दिल्ली के जैतपुर से सटे फरीदाबाद के बसंतपुर से गुजर रहे यमुना किनारे दो किलोमीटर के दायरे में पांच से अधिक मकान बसे है। यह सब उस समय चर्चा में आया जब जुलाई के महीने में यमुना में जलस्तर बढ़ा था। वहीं बाढ़ की वजह से हजारों परिवारों को अपना घर छोड़ एक सेफ इलाके में जाना पड़ा था। इस दौरान आपराधिक किस्म के लोगों ने कई घरों में चोरी की वारदात को भी अंजाम दिया।

अधिकारियो ने कही ये बात

वही नार निगम के अधिकारियो का कहना है कि, लोगो ने इन इलाको में रहने के लिए अनुमति नहीं ली। जहाँ बिना आज्ञा के घर बनाये गए है। अब ऐसे में निगम ने नोटिस जारी कर यह योजना बनायीं है। जबकि वहाँ रहने वाले जनता का कहना है कि उन्हें अब अपना घर जाने का भय है। जब यहां जमीन बेची जा रही थी और निर्माण हो रहा था तो कभी किसी सरकारी अफसर ने आकर रोक टोक नहीं की। लोगों का कहना है कि नगर निगम ने पुनर्वास की भी योजना नहीं है। ये भी पढ़े : सनी देओल के आये बुरे दिन होगा सनी का बंगला नीलाम ये है कारण

बीते साल दस हज़ार से ज्यादा घरो पर चले थे बुलडोजर

दरअसल, बीते वर्ष नगर निगम ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सूरजकुंड क्षेत्र स्थित अरावली में बसे खोरी में बुलडोजर चलायी थी। वहां निगम ने सरकारी जमीन पर बने करीब दस हजार से ज्यादा मकानों पर बुलडोजर चलाये थे। कार्रवाई काफी दिनों तक चली थी। इस दौरान विरोध भी किया गया था। लोगों का कहना है कि भूमि के हड़पने वाले ने बसंतपुर इलाके को दूसरा खोरी गांव बना दिया है। यहां भी सरकारी जमीन को बेचकर भूमाफिया ने जनता को रहने दिया।

Leave a Comment