Dusshera 2023 : उत्तर प्रदेश के इस जिले में होती है रावण की पूजा , मनाई जाती है उनकी तेहरवी

सरकारी नौकरी पाने के लिए हमारे व्हाट्स एप्प ग्रुप से जुड़े े Join Now

Dusshera 2023 : दोस्तों हर साल दशहरा का त्यौहार पुरे देश में में बहुत ही धूम धाम से मनाया जाता है और पूरा देश इसको मनाता है . इस दिन पुरे देश में रावण और उसके भाई के पुतले बनाये जाते है और फिर उसमे आग लगा कर जला दिया जाता है , इसको बुराई पर अच्छाई के तौर पर मनाया जाता है . लेकिन उत्तर प्रदेश में एक जगह ऐसा भी है जहा पर रावण की पूजा की जाती है और उनका बहुत सम्मान किया जाता है .

 

उत्तर प्रदेश में इस जगह पर रावण की होती है पूजा

आपको पता है की दशहरा आने से पहले बहुत दिनों तक राम लीला मनायी जाती है और अब तो रामलीला को उनेसको में भी जगह मिल गयी है . हम जिस जगह की बात कर रहे है वो जगह है उत्तर प्रदेश का जसवंत नगर जहा पार राम का समान किया जाता है . एक आदमी ने बहुत सी रामलीला पर रिसर्च की लेकिन उनका कहना है की उन्होंने जसवंत नगर जैसी रामलीला कही भी नहीं देखि है . रामलीला के दौरान कलाकार मुखोटे लगा कर मैदान में क्रियाए करते है और दर्शको का मनोरंजन करते है .

dusshera

रामलीला को जलाया नहीं जाता यहाँ

यहाँ पर दुसरे दशहरा के तरह ही बड़े बड़े पुतले लगाये जाते है लेकिन आपको जानकार हैरानी होगी की यहाँ पर उनको जलाया नहीं जाता . यहाँ पर उनके पुतलो को जलाने की जगह उनको टुकडो में काटा जाता है और लोग उनको उठा कर अपने घर ले जाते है . ये कहा जाता है ऐसा करने से लोगो को डर नहीं लगता और उनके घर में लक्ष्मी का वास होता है . इतना नहीं वहा के लोग रावण की तेरहवी भी मनाई जाती है , और ऐसा करने वाले वो हिंदुस्तान में अकेली जगह ही है . रामनवमी के दिन लोग लाखो की संख्या में बाण आसमान में छोड़ते है जिससे वहा देखने वाला नजारा होता है .