शिकंजवी बेचने वाले मटको पर लाल कपडा क्यों लगाते है ये है कारण

सरकारी नौकरी पाने के लिए हमारे व्हाट्स एप्प ग्रुप से जुड़े े Join Now

अबकी बार गर्मी बहुत ही ज्यादा पड़ रही है और इस गर्मी से बचने के लिए लोग तरह तरह के जतन करते है कुछ लोग तो कूलर की ठंडी हवा में बैठते है तो कुछ लोग ठंडी चीज़े खाना पसंद करते है . इस समय कुल्फी बेचने वाले या फिर शिकंजवी बेचने वाले आपको अक्सर दिखाई दे जाते है . लेकिन क्या आपने कभी एक चीज़ नोट की है की वो अपने मटकों के चारो और एक लाल रंग का कपडा डाल के रखते है किसी और रंग का कपडा नहीं डालते . तो आज हम इस राज से पर्दा उठाने वाले है ताकि आपको भी पता चले की वो लाल रंग का कपडा ही क्यों डालते है .

 

मटकों पर इसलिए डालते है लाल रंग का कपडा

 

जब भी आप कुल्फी वाले के पास जाते है या फिर शिकंजवी वाले के पास जाते है तो उनके मटको पर लाल रंग का कपडा होता है . इस लाल कपडा इस्तेमाल करनी के की कारण है जो की हम नहीं जानते है , सबसे पहला कारण तो ये है की इस लाल रंग का कपडा बहुत ही तेज रंग वाला होता है . जो की लोगो को अपनी तरफ आकर्षित करता है लेकिन दूसरी तरफ इसका एक वैज्ञानिक पहलु भी है जिसको हम शायद नहीं जानते है .

ये भी पढ़ेरेलवे लाइन के खम्बो पर गोल गोल पत्थर क्यों लगे होते है , वजह जान कर खुश हो जायेंगे

दूसरा इसका एक और कारण है की लाल रंग का कलर बहुत ही ज्यादा होता है की की गर्मी की किरणों को वापिस भेज देता है जिसके कारण इसके अंदर पड़ी चीज़ काफी ठंडी भी रहती है . वैसे भी ये कहा जाता है की हमारे ब्रम्हांड में 7 रंग है और उनमे से लाल रंग का आकर्षण सबसे ज्यादा होता है . इसलिए ठेले वाले दिमाग का इस्तेमाल कर इस रंग को अपनी रेहड़ी पर लगाते है ताकि जितने ज्यादा हो सकते ग्राहक आकर्षित हो सके .