ट्रेन के सफ़र के दौरान मोबाइल की बैटरी जल्दी ख़तम क्यों हो जाती है ये है कारण

सरकारी नौकरी पाने के लिए हमारे व्हाट्स एप्प ग्रुप से जुड़े े Join Now

दोस्तों दुनिया में एक से बढ़कर एक रहस्य है उनके बारे में हमें बहुत ही कम पता है . आज कल हर किसी के पास मोबाइल रहता ही है और सबसे जरूरी चीज उसमे मोबाइल की बैटरी है . अगर बैटरी कोई काम करते हुए ख़तम हो जाए तो आदमी को तनाव हो ही जाता है . आज कल लोगो के लिए रोटी इतनी ज्यादा जरूरी नहीं है जितना की जरूरी मोबाइल फ़ोन हो गया है . वैसे भी आज कल सब काम चाहे खाना मंगवाना हो या किसी को सन्देश भेजना हो मोबाइल फ़ोन बहुत जरूरी हो गया है . इसलिए हम कोशिश करते है की फ़ोन की बैटरी ख़तम ना हो .

 

चलती ट्रेन में बैटरी क्यों हो जाती है ख़तम

 

फ़ोन से काम लेने के लिए जरूरी है की उसकी बैटरी सही तरीके से चलती रहे , लेकिन हमने अक्सर नोट किया है की जब ट्रेन में सफ़र किया है तो बैटरी जल्दी ख़तम हो जाती है . आप देख कर हैरान रह जाते है की ऐसा क्यों हो जाता है और दिमाग पर जोर लगा कर भी इस प्रशन का उत्तर नहीं खोज पाते है .

ये भी पढ़ेटायरों पर क्यों होते है रबर के कांटे , जानना नहीं चाहेंगे आप

तो चलिए आज इस प्रशन का उतर हम आपको देते है की ऐसा क्यों होता है . तो दोस्तों आपको बता दे की ये इसलिए होता है की सबसे पहला कारण फ़ोन का नेटवर्क है . क्योकि जब हम ट्रेन पर सफ़र करते है तो हमारा राज्य या फिर जिला बदल जाता है . और हम दुसरे नेटवर्क में आते है जिसके कारण बैटरी पर जोर पड़ता है .

train

इसका अगला कारण है इन्टरनेट का इस्तेमाल होना क्योकि हम अक्सर फ़ोन में इन्टरनेट का इस्तेमाल करते है . क्योकि सफ़र के दौरान एक जगह से दूसरी जगह पर जाते है तो नेटवर्क बदलता रहता है . दुसरे नेटवर्क में इन्टरनेट इस्तेमाल करने के कारण फ़ोन की बैटरी पर जोर पड़ता है इसके कारण भी बैटरी जल्दी ख़तम होती है .